Previous Paper

प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कैसे करें

प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कैसे करें | Pratiyogi Pariksha Ki Taiyari Kaise Kare: Competition Exam ki taiyari kaise kare in hindi, Competitive Exam ki taiyari kaise karen:- नमस्कार दोस्तों, आज की इस पोस्ट में हम जानेंगे कि प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कैसे करें और प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी के लिए कुछ शानदार Tips के बारे में बात करेंगे. आप सभी तो जानते ही होंगे कि आजकल दिन-प्रतिदिन कंपटीशन बढ़ता जा रहा है और बहुत से लोग यह सोचते हैं कि बिना कोचिंग के एग्जाम क्लियर नहीं हो सकता, लेकिन ऐसा नहीं है यदि आप कड़ी मेहनत, लगन और ईमानदारी से अपनी पढ़ाई लगातार कर रहे हैं तो आप बिना कोचिंग के प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर सकते हैं और आसानी से किसी भी तरह के एग्जाम को क्लियर कर सकते हैं.

आज हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से यह बताने का प्रयास करेंगे कि बिना कोचिंग के प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कैसे करें

प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कैसे करें

प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कैसे करें

हमारे Telegram चैनल से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें : Click Here

प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी के लिए महत्वपूर्ण टिप्स –

बिना कोचिंग के Competitive Exam की तैयारी कैसे करें –

1.) आत्मविश्वास रखें
2.) पढाई करने की योजना बनाएं
3.) टाइम टेबल बनाएं
4.) स्टडी मटेरियल
5.) नियमित पढाई अवश्य करें
6.) पढ़ाई के लिए शांत जगह चुने
7.) पिछले वर्षों के प्रश्न पत्र जरूर हल करें
8.) थोड़ा पढ़े, लेकिन ध्यान से पढ़े

 

हमारे Whatsapp ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें : Click Here

 

बिना कोचिंग के प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कैसे करें –

जब हम किसी भी Competitive Exam की तैयारी शुरू करना स्टार्ट करते हैं तो सबसे बड़ी समस्या यह होती है कि पढ़ाई को कहां से प्रारंभ किया जाए, क्या पढ़े, क्या नहीं पढ़े, कौन सी पुस्तक पढ़े, कौन से लेखक की बुक सही है, कठिन टॉपिक्स को समझ पाएंगे कि नहीं, ऐसे तमाम तरह के प्रश्न हर एक के दिलो-दिमाग में आने लगते हैं, इसलिए हम आपकी सुविधा के लिए कुछ टिप्स बता रहे हैं जिससे आप बिना कोचिंग के प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर सकते हैं और अपनी आगामी परीक्षा में सफलता प्राप्त कर सकते हैं :-

1.) आत्मविश्वास रखें –

किसी भी कॉम्पिटिटिव परीक्षा की तैयारी करने में पहला और सबसे महत्वपूर्ण स्टेप आत्मविश्वास का होता है. आपको अपने अंदर हमेशा यह बात आत्मविश्वास के साथ बोलनी है कि मैं इस परीक्षा को आसानी से क्लियर कर सकता हूं या कर सकती हूं, मैं अपनी पूरी मेहनत और लगन से पढ़ाई करूंगा और परीक्षा को क्लियर करूंगा. यदि आप परीक्षा की तैयारी बहुत अच्छे तरीके से करते हैं लेकिन परीक्षा देते समय अपने अंदर आत्मविश्वास नहीं है तो एग्जाम में प्रश्न का आंसर आते हुए भी आप आंसर को गलत कर के आ सकते हैं।

2.) पढाई करने की योजना बनाएं –

दूसरा स्टेप है प्लानिंग. क्योंकि बिना प्लानिंग के सफलता संभव नहीं है. प्लानिंग करने से हम एक रास्ता बनाते हैं कि हमें कैसे चलना है, क्या करना है, कैसे पढ़ाई करनी है, क्या क्या पढ़ना है. इसलिए परीक्षा की तैयारी शुरू करने से पहले आपको अपनी परीक्षा के बारे में सभी जानकारी पता होनी चाहिए जैसे – परीक्षा पाठ्यक्रम, परीक्षा तिथि, योग्यता मापदंड आदि.

कॉम्पटेटिव एग्जाम को पास करने के लिए हमें विशेष प्रकार की स्ट्रेटजी बनानी होती हैं. अगर हम सही स्ट्रेटजी के साथ सही तरीके से तैयारी करें, तो बिना किसी कोचिंग के भी कॉम्पटेटिव एग्जाम पास कर सकते हैं.

3.) टाइम टेबल बनाएं –

तीसरा स्टेप है समय सारणी तैयार करना व उसके अनुसार उस पर अमल करना. एग्जाम के सिलेबस को ध्यान में रखते हुए आप अपना टाइम टेबल बनाएं ताकि समय पर सारा सिलेबस कवर कर सके. परीक्षा से जुड़े हर विषय को अच्छे से पढ़े और कमजोर विषय को ज्यादा समय देने की कोशिश करें.

4.) स्टडी मटेरियल –

परीक्षा के विषय के अनुरूप परीक्षा संबंधी अध्ययन सामग्री का चयन करें. जैसा की परीक्षा आते ही बाजार में बहुत सारी बुक्स अवेलेबल हो जाती हैं जिनके कारण आप कंफ्यूज हो जाते हैं की कौन सी बुक अच्छी है और कौन सी नहीं. इसके लिए आप कोई एक अच्छी एग्जाम से संबंधित बुक पढ़ सकते हैं या की अलग-अलग विषय के लिए अलग-अलग बुक भी ले सकते हैं जिससे आप बहुत से कॉम्पटेटिव एग्जाम की तैयारी एक ही बुक से कर सकते हैं. हमेशा एक विषय की तैयारी एक ही बुक से करें जिससे आप कंफ्यूज नहीं होंगे और उस बुक को कई बार पढ़े. अगर किसी टॉपिक में प्रॉब्लम हो तो आप इंटरनेट से भी हेल्प ले सकते हैं. इसके अलावा आप मार्केट में उपलब्ध ऑनलाइन टेस्ट मटेरियल का भी सहारा ले सकते हैं.

5.) नियमित पढ़ाई अवश्य करें –

नियमित एकाग्रता के साथ पढ़ाई करें. रेग्युलर पढ़ाई करने से आप पढ़ाई को बोझिल महसूस नहीं करेंगे और आप समय से एग्जाम के पूरे पाठ्यक्रम को कंप्लीट कर पाएंगे. आपको एक दिन ही 7 से 8 घंटे पढ़ाई करनी चाहिए. अगर आप रोज 7 से 8 घंटे पढ़ाई नहीं कर पाते तो जिस दिन पढ़ाई कम की है उसके बाकी के समय को अगले दिन पूरा करें.

6.) पढ़ाई के लिए शांत जगह चुने –

कहते हैं किसी भी प्रतियोगी परीक्षा में सफलता के लिए कोचिंग क्लास में ज्वाइन करना बहुत ही आवश्यक है लेकिन ऐसा नहीं है बिना कोचिंग के सेल्फ स्टडी कर आप एग्जाम पास कर सकते हैं. आजकल इंटरनेट में आप जहां भी आपको प्रॉब्लम होती हैं उसके लिए टॉपिक से रिलेटेड फ्री वीडियो अवेलेबल है. बस आपको अपने आपको टाइम टाइम से सेल्फ मोटिवेट करने की जरूरत है और खुद मोटिवेट कर पढ़ाई का एनवायरमेंट बनाना हैं.

7.) पिछले वर्षों के प्रश्न पत्र जरूर हल करें –

अगर आप किसी भी परीक्षा में पूछे गए पिछले 5 -10 वर्षों के प्रश्नों का गहन अध्ययन करते हैं, तो आपको पेपर पेटर्न का सही ज्ञान हो जाएगा और आपका कॉन्फिडेंस लेवल बढ़ जाएगा और आप अपनी कमियों को भी अच्छी तरह से जान जाएंगे और दूर कर सकेंगे. जब आप पुराने प्रश्न पत्र सॉल्व करें और एग्जाम टाइम लिमिट में पूरा करें तो सॉल्व करने के बाद अपने गलत उत्तर व सही उत्तर का मूल्यांकन कर नंबर जरूर दें जिससे आपको पता चल सके की आप कहां कमजोर हैं और किस टॉपिक पर मेहनत करनी है.

8.) थोड़ा पढ़े, लेकिन ध्यान से पढ़े –

आप जिस भी टॉपिक को पढ़े तो, क्लियर पढ़े और ध्यान से पढ़े. यदि आपने बहुत सारा पढ़ा है और आपको समझ में कुछ नहीं आया तो वो बेकार है. इसलिए जो कुछ पढ़े क्लियर पढ़े.

 

प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कैसे करें FAQs.

प्रतियोगी परीक्षा में कौन कौन से विषयों से प्रश्न पूछे जाते है ?

प्रतियोगी परीक्षा में तर्कशक्ति (Reasoning), गणित (Mathematics), सामान्य ज्ञान (General Knowledge), दैनिक विज्ञान (General Science), अंग्रेजी (English), सामयिकी (Current Affairs ) आदि विषयों से प्रश्न पूछे जाते है.

सरकारी नौकरी (Government Job) की तैयारी कैसे करें ?

सरकारी नौकरी की बेहतरीन तैयारी के लिए बेस्ट स्टडी प्रिपरेशन टिप्स ऊपर दिए गए है.

Leave a Comment

Join Telegram
Telegram